अर्थिंग क्यों आवश्यक है | Earthing kyu karte hai

विद्युत् ऊर्जा का उपयोग करते समय सावधानी बहुत आवश्यक है क्यूंकि सुरक्षा में छोटी सी भी चूक होने पर नुकसान उठाना पड़ सकता है। आपने देखा होगा की कुछ विद्युत् उपकरणों की अर्थिंग की जाती है। क्या आपको पता है कि अर्थिंग क्यों आवश्यक है ?     अर्थिंग क्यों आवश्यक है ? ऐसे उपकरण जिनका … Read more

AC और DC का फुल फॉर्म क्या है

बिजली से जुड़ी किसी जगह या यन्त्र पर आपने 210 Volt AC, 9 Volt DC, 440 V AC आदि लिखा जरूर देखा होगा लेकिन क्या आपको एसी और डीसी का फुल फॉर्म पता है ? यहां मैं आपको इसके बारे में जानकारी देने वाला हूँ।   AC का फुल फॉर्म क्या है AC का full form है – … Read more

तत्व | यौगिक | मिश्रण में क्या अंतर है

प्रकृति में कई तरह के पदार्थ पाए जाते हैं जो विभिन्न प्रकार के अणुओं और परमाणुओं से मिलकर बने होते हैं । आज मैं आपको तत्व, यौगिक और मिश्रण के बारे में जानकारी देने वाला हूं कि तत्व यौगिक और मिश्रण क्या होते हैं ? परिभाषा और उदाहरण ( Elements compounds and mixtures in hindi … Read more

Capacitor क्या है | संधारित्र का संयोजन सूत्र

किसी भी इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक परिपथ में कई तरह के अवयव होते हैं जैसे – प्रतिरोध, चालक, संधारित्र, डायोड आदि । अपनी इस पोस्ट में मैं आपको संधारित्र (capacitor) के बारे में बताने वाला हूं कि कंडेनसर किसे कहते हैं ? धारिता क्या होती है ? कंडेंसर कैसे काम करता है ? संधारित्र का श्रेणी क्रम … Read more

विद्युत चुंबकीय प्रेरण के नियम | फैराडे का नियम

विद्युत धारा के चुम्बकीय प्रभाव के सिद्धांत पर कई प्रकार के यंत्र और मोटर आदि कार्य करते हैं । इस पोस्ट मे मैं आपको माइकल फैराडे के चुम्बकीय प्रेरण के नियमों के बारे मे बताउंगा । माइकल फैराडे के विद्युत चुम्बकीय प्रेरण के नियम फैराडे ने 1831 में विद्युत चुम्बकीय प्रेरण से संबंधित दो नियम … Read more