प्राथमिक सेल और द्वितीयक सेल में क्या अंतर है

विद्युत धारा दो प्रकार की होती है – प्रत्यावर्ती धारा और दिष्ट धारा प्रत्यावर्ती विद्युत धारा को स्टोर करके नहीं रख सकते जबकि दिष्ट धारा को हम सेल अथवा बैटरी में स्टोर करके रख सकते हैं और जरूरत पड़ने पर उसका उपयोग कर सकते हैं । यहां मैं आपको प्राथमिक सेल और द्वितीयक सेल के … Read more

कैपेसिटर क्या है? संधारित्र का संयोजन कैसे करें

किसी भी इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक परिपथ में कई तरह के अवयव होते हैं जैसे – प्रतिरोध, चालक, संधारित्र, डायोड आदि । अपनी इस पोस्ट में मैं आपको संधारित्र (capacitor) के बारे में बताने वाला हूं कि कंडेनसर किसे कहते हैं ? धारिता क्या होती है ? कंडेंसर कैसे काम करता है ? संधारित्र का श्रेणी क्रम … Read more

सिंक्रोनस या तुल्यकालिक मोटर क्या है

विद्युत ऊर्जा चलित मोटर बहुत उपयोगी हैं ये कई प्रकार की होती हैं जैसे – थ्री फेज मोटर, डीसी मोटर, सिंगल फेज मोटर, तुल्यकालिक मोटर आदि । यहां मैं आपको synchronous motor ( तुल्यकालिक मोटर ) की जानकारी दूंगा । सिन्क्रोनस मोटर क्या है यह अल्टरनेटर की तरह ही प्रत्यावर्ती विद्युत ऊर्जा (AC) को यांत्रिक … Read more

प्रतिरोध किसे कहते हैं? विशिष्ट प्रतिरोध की परिभाषा

इलेक्ट्रिकल में शुरुआत मे आने वाले टाॅपिक में से एक है – प्रतिरोध या प्रतिरोधकता प्रत्येक विद्युत परिपथ मे कुछ न कुछ प्रतिरोध अवश्य होता है। अगर परिपथ में प्रतिरोध नहीं होगा तो शार्ट सर्किट हो जायेगा। यहां मैं आपको प्रतिरोध और विशिष्ट प्रतिरोध के बारे में जानकारी दूंगा कि प्रतिरोध और विशिष्ट प्रतिरोध किसे … Read more

गतिज ऊर्जा और स्थितिज ऊर्जा में अंतर उदाहरण सहित

ऊर्जा कई प्रकार की होती है यहां मैं आपको स्थितिज ऊर्जा और गतिज ऊर्जा के बारे में बताने वाला हूं कि स्थितिज ऊर्जा और गतिज ऊर्जा की परिभाषा क्या है और इन दोनों के बीच क्या अंतर है? इसका सूत्र और उदाहरण | Potential energy in Hindi, Kinetic energy in Hindi ऊर्जा किसे कहते है? किसी … Read more