किरचॉफ का नियम क्या है


अपनी पिछली पोस्ट में मैने आपको Ohm के नियम के बारें में बताया जिससे आप ओह्म के नियम को आसान भाषा में समझ सकते हैं ।

आज अपनी इस पोस्ट में मैं आपको किरचाॅफ का प्रथम और द्वित्यीय नियम के बारे में बताने वाला हूं ।

 

किरचाॅफ के नियम

किरचॉफ का नियम क्या है?

रूसी वैज्ञानिक किरचाॅफ ने डीसी परिपथ के लिए दो नियम बनाए थे –
1. धारा का नियम
2. वोल्टेज का नियम

धारा का नियम

इस नियम के अनुसार “किसी बन्द DC Circuit में चालकों के संगम पर सभी धाराओं का बीजगणितीय योग शून्य होता है”
∑i = 0
 
अगर आसान शब्दों में कहूं तो, किसी डीसी परिपथ में संगम की ओर आने वाली धाराओं का योग, जाने वाली धाराओं के योग के बराबर होता है ।

 

Example :-
 
किरचाॅफ का धारा का नियम
 
 
इसी तरह
3 + 5 = 4 + 3 + 1
3 + 5 – 4 -3 -1 = 0
अतः सिद्ध हुआ कि धाराओं का बीजगणितीय योग शून्य होता है ।

 

वोल्टेज का नियम

इस नियम के अनुसार “बंद DC circuit में, EMF (विद्युत वाहक बल) का बीजगणितीय योग, प्रतिरोधकों पर लगने वाले वोल्टेज के बीजगणितीय योग के बराबर होता है ।

 

∑ E = E I.R
 
अर्थ –
सभी EMF का बीजगणितीय योग = विभिन्न प्रतिरोधकों तथा उन पर लगने वाली धारा के गुणनफलों का बीजगणितीय योग

Leave a Comment