Top 10 ITI courses list | आईटीआई कोर्स लिस्ट इन हिंदी

आजकल technology बहुत विकास कर रही हर क्षेत्र मे तकनीक का प्रयोग किया जा है ऐसे मे छात्रों का ध्यान इंजीनियरिंग काॅलेज के की ओर हो रहा है ।
बहुत से छात्र technical courses करना चाहते है जिन्हें करके आसानी से सरकारी नौकरी मिल जाए ।
इन्ही courses में एक है ITI (आईटीआई)
ITI यानी Industrial training institute इसमें कई तरह के trades होते हैं जैसे – Electrician, Fitter, welder, Stenographer आदि ।
आप इनमे अपनी पसंद की कोई भी trade चुनकर उस ट्रेड का प्रशिक्षण ले सकते हैं ।
यहां मैं आपको आईटीआई कोर्स की Top 10 trades के बारे में बताऊंगा जो students में सबसे popular हैं और इन trades में प्रशिक्षण लेने के बाद government job मिलने के chance सबसे ज्यादा होते है ।
Most popular iti course  

Top 10 Best trades of ITI Course which is in great demand

(1) Electrician – इलैक्ट्रीशियन यानी विद्युतकार आईटीआई कोर्स की सबसे अधिक popular technical trade है हर साल लाखों छात्र इस ट्रेड में प्रशिक्षण लेते हैं ।
इसकी popularity का मुख्य कारण यह है कि Industrial क्षेत्र में सबसे अधिक vacancies इसी ट्रेड से निकलती हैं ।
इलैक्ट्रीशियन ट्रेड की प्रशिक्षण अवधि 2 साल है । इसमें इलेक्ट्रिकल से संबंधित जानकारी और प्रशिक्षण दिया जाता है ।
इसे करने के बाद किसी भी सरकारी संस्थान अथवा प्राइवेट कंपनी आदि में इलेक्ट्रिकल से संबंधित job आसानी से मिल जाएगी । 

 

(2) Fitter – इलैक्ट्रीशियन के अलावा Fitter trade भी आईटीआई की सबसे पसंदीदा ट्रेड हैं ।
Electrician की तरह Fitter में भी अधिक vacancies निकलती हैं ।
फिटर ट्रेड की प्रशिक्षण अवधि भी 2 साल है तथा इसमे फिटर मैकेनिकल से संबंधित जानकारी और प्रशिक्षण दिया जाता है ।
फिटर ट्रेड के बाद आपको किसी government अथवा private कंपनी, इंडस्ट्रियल एरिया, फैक्ट्री आदि में फिटर मैकेनिक से संबंधित जाॅब आसानी से मिल सकती है । 

(3) COPA – इसका पूरा नाम Computer operator and programming assistant है ।
इसमें MS office, programming languages, computer operating, basic hardware and software, Data entry, telly, IT act आदि topics की जानकारी दी जाती है ।
इसे करने के बाद आपको Computer operator, data entry, programming assistant आदि की job मिल सकती है ।

 


 

(4) Welder – इस ट्रेड में आपको वेल्डिंग से जुड़ी जानकारी दी जाएगी जिनमें वेल्डिंग धातुओं, वेल्डिंग यंत्र, मेटल कटिंग आदि की जानकारी मिलेगी ।
इसे करने के बाद आपको welder संबंधित job आसानी से मिल जाएगी ।

 

(5) Diesel mechanic – इस कोर्स में डीजल इंजन, यंत्रों, डीजल चलित वाहनों और इनके पुर्जों आदि के निर्माण, रिपेयरिंग, मेंटिनेंस आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है ।
इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप रेल डीजल इंजन डिपार्टमेंट, किसी डीजल वाहन बनाने वाली कंपनी आदि में जाॅब कर सकते हैं ।
आप चाहे तो स्वयं का रिपेयरिंग शाॅप भी खोल सकते हैं । 

 

(6) Stenographer – इस course की popularity लगातार बढ़ती जा रही है इस ट्रेड में students को typing और short hand का प्रशिक्षण दिया जाता है ।
यह course दो प्रकार का होता है –
● Hindi Stenographer
● English Stenographer
आप अपनी पसंद अनुसार इनमें से एक का चयन कर उसमें प्रशिक्षण ले सकते हैं ।

 

(7) Electronic mechanic – इस course में इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों और उनके पार्ट जैसे – LED, CCTV, gates, IC, electronic circuits, other electronic gadgets etc. की जानकारी दी जाती है ।
वर्तमान समय में electronic gadgets का उपयोग बहुत बढ़ गया है । जिससे इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर भी बढ़ गए हैं ।
इसे करने के बाद आप किसी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बनाने वाली कंपनी, मोबाइल बनाने वाली कंपनी, BSNL, ISRO, BHEL आदि में job कर सकते हैं ।

 

(8) Wireman – यह भी Electrician की तरह Electrical से जुड़ी trade है । इसमें electrical sub stations, transmission, distribution आदि पर wiring system maintenance आदि की जानकारी दी जाती है ।
इसे करने के बाद आपको इलेक्ट्रिकल डिस्ट्रीब्यूशन तथा सब स्टेशन पर job मिल सकती है ।

 

 

(9) Draughtsman – इसे हिन्दी में नक्शानवीस कहते हैं, इस ट्रेड में किसी यंत्र, मोटर, बिल्डिंग, पुल आदि का नक्शा बनाने का प्रशिक्षण दिया जाता है ।
यह दो प्रकार की होती है –
● Draughtsman civil
● Draughtsman mechanical
किसी भी यंत्र या बिल्डिंग आदि के निर्माण से पूर्व उसकी नाप, बनावट आदि का नक्शा बनाया जाता है जिससे किसी प्रकार की त्रुटि की संभावना न रहे ।
इस कार्य के लिए एक कुशल Draughtsman की आवश्यकता होती है ।

 

 

(10) Motor vehicle mechanic – इस course में two vehicles, four vehicles, automobiles, engines, trucks, and their parts आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है ।
और ये बात सभी जानते हैं कि वर्तमान समय में यातायात के साधनों का उपयोग कितना अधिक हो रहा है यानी इस ट्रेड मे भी करियर की अधिक संभावना है ।

Leave a Comment