ITI का फुल फॉर्म | आईटीआई कोर्स की पूरी जानकारी

10th और 12th pass होने के बाद हर छात्र अपने सफल करियर के लिए एक अच्छे से कोर्स की तलाश करता है जिससे वह आगे सफलता प्राप्त करते सके और अपने भविष्य को उज्जवल बना सके।
आज मैं आपको एक ऐसे कोर्स के बारे में बताने वाला जो पिछले कई सालो से चल रहा है और बहुत popular हो चुका है और जिसमें jobs vacancies भी बहुत ज्यादा आती है ।

आज मैं आपको आईटीआई कोर्स के बारे में बताने वाला हूं ।

ITI kya hai puri jankari

 


ITI का Full form

Industrial Training Institute – औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान

आईटीआई कोर्स क्या है ?

आईटीआई कोर्स एक टेक्निकल ट्रेंनिंग कोर्स है जिसमे कई साड़ी Trades होती है जैसे – Electrician, Fitter, Stenographer, Copa, Welder, wireman आदि ।

यह भी पड़ें – Top 10 ITI courses list

इनकी अध्ययन अवधि 1 से 2 साल की होती है आप अपनी पसंद के अनुसार किसी भी ट्रेड मे Admission ले सकते हैं इसके बाद आपको आपकी Trade से संबंधित कोर्स पढाया जाएगा और उसकी Training दी जाएगी ।

कोर्स उत्तीर्ण होने के बाद आपको इसका सर्टीफिकेट दिया जाएगा ।

यह भी पढ़ें – ITI किस ट्रेड से करना चाहिए

ITI में नौकरी के अवसर

आईटीआई करने के बाद आपको किसी कंपनी, रेल्वे, बिजलीघर, फैक्ट्री आदि में जाॅब मिल सकती है इसकी vacancies भी बहुत ज्यादा होती है भारतीय रेल्वे मे ही इसकी हजारों vacancies निकलती हैं, आईटीआई करने के बाद आपको सरकारी और प्राइवेट दोनो तरह की नौकरी मिल सकती है।
आईटीआई कोर्स बना ही औद्योगिक क्षेत्र के लिए है और इसमें हर प्रकार के औद्योगिक कार्य से जुडी टेक्निकल जानकारी दी जाती है।
आईटीआई करने के बाद यदि आप चाहे तो अपना खुद का बिजनेस भी शुरु कर सकते हैं ।

अधिक जानकारी के लिए आप हमारे इस पोस्ट को पढें – ITI Complete होने के बाद क्या करें

ITI कोर्स कैसे करें ?

ITI कोर्स करने के लिए आपका मान्यता प्राप्त बोर्ड से हाई स्कूल (10th) पास होना अनिवार्य है इसके बाद आप अपने आसपास के किसी भी सरकारी या प्राइवेट आईटीआई काॅलेज में एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।

सरकारी काॅलेज में आपको मेरिट लिस्ट के अनुसार एडमिशन मिलेगा ।

ITI के Exams कैसे होते हैं ?

जैसा की मेने पहले बताया की आईटीआई कोर्स दो साल का होता है इसमें साल में एक बार एग्जाम होते हैं, जिनमें इलेक्ट्रिकल थ्योरी, वर्कशॉप कैलकुलेशन एंड साइंस और एम्प्लॉयबिलिटी स्किल्स का पेपर कंप्यूटर के द्वारा ऑनलाइन होगा, जिनमें आपके कोर्स से संबंधित objective questions पूछे जाएगे और इंजीनियरिंग ड्राइंग का पेपर ऑफलाइन होगा इसके आलावा प्रैक्टिकल एग्जाम भी होगा।

Conclusion

अगर आप इंजीनियरिंग के जैसा कोई ऐसा कोर्स करना चाहते हैं जो कम समय वाला और सस्ता हो तो आप आईटीआई कोर्स कर सकते हैं इसकी अध्ययन अवधि केवल दो वर्ष है और यह Affordable भी है और इसे करने के बाद आपको आसानी से नौकरी भी मिल जाएगी ।
भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने भी कई बार छात्रों को आईटीआई कोर्स के लिए प्रोत्साहित किया है ।

Leave a Comment