न्यूट्रल और अर्थ तार क्या है इनके बीच का अंतर


किसी भी प्रकार की सप्लाई अथवा वायरिंग में मुख्यतः तीन प्रकार के तार होते हैं – फेस, न्यूट्रल और अर्थ
ये तीनो ही तार किसी भी प्रकार की वायरिंग के लिए बहुत जरुरी होते हैं ।
फेस के बारे में तो अधिकतर लोग जानते हैं लेकिन न्यूट्रल और अर्थ के बारे में कई लोग नही जानते की इन दोनों के बीच क्या अंतर होता है ।
अगर आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के छात्र हैं तो आपको इनकी जानकारी होना बहुत आवश्यक है ।
इस पोस्ट में मैं आपको न्यूट्रल और अर्थ की जानकारी देने वाला हूँ ।
न्यूट्रल तार और अर्थ तार क्या है

न्यूट्रल और अर्थ तार में क्या अंतर क्या होता है ?

 
न्यूट्रल तार – 3 फेस स्टार कनेक्शन वाले ट्रांसफार्मर में तीनों फेस तारों के संधि स्थान से न्यूट्रल प्राप्त किया जाता है ।
न्यूट्रल तार का रंग काला होता है ।

 

उपयोग – सिंगल फेस सप्लाई का उपयोग करने के लिए न्यूट्रल तार होना आवश्यक होता है ।
तीन फेस सप्लाई के किसी भी एक फेस तार को न्यूट्रल तार के साथ उपयोग करके सिंगल फेस सप्लाई प्राप्त की जाती है ।
बिना न्यूट्रल तार के सिंगल फेस परिपथ पूर्ण नही होता ।

 

अर्थ तार – यह जमीन में गड्डा बनाकर उसमें भू संयोजन प्लेट स्थापित करके प्राप्त किया जाता है ।
तीन और पांच पिन सॉकेट में सबसे ऊपर वाला मोटा पॉइंट अर्थ तार का होता है । अर्थ तार का रंग हरा होता है ।

 

उपयोग – जब किसी विद्युत उपकरण का धात्विक आवरण, फेस तार के संपर्क में आ जाता है तो उसमें भी विद्युत् धारा बहने लगती है ऐसे में उपकरण को छूने पर व्यक्ति को विद्युत झटका लग सकता है ।
इसीलिए अर्थ तार को उपयोग करके इस प्रकार के विद्युत झटके से सुरक्षा की जाती है ।

Leave a Comment