सदिश राशि और अदिश राशि क्या है


भौतिकी से जुड़े किसी विषय को पढ़ते समय आपने कई बार सुना होगा कि ये राशि एक सदिश राशि है अथवा ये एक अदिश राशि है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सदिश राशि और अदिश राशि किसे कहते हैं? सदिश और अदिश राशि में क्या अंतर है?

यहां इस पोस्ट में मैं आपको सदिश और अदिश राशि के बारे में पूरी जानकारी देने वाला हूँ।

सदिश राशि और अदिश राशि

 

सबसे पहले आपको यह जानना जरूरी है कि भौतिक राशि क्या होती है?

भौतिक राशि वह राशि होती है जो किसी भौतिक वस्तु को संख्यात्मक रूप में प्रदर्शित करती है। भौतिक राशि के उपयोग से हम किसी भी भौतिक वस्तु अथवा सामग्री को माप सकते हैं और उसकी गणना कर सकते हैं।

भौतिक राशियाँ विभिन्न प्रकार की होती हैं जैसे: लम्बाई, आयतन, द्र्वयमान, वेग, समय, तापमान आदि।

उदहारण: किसी जगह पर एक पत्थर रखा हुआ है जिसका वजन हम किलोग्राम में माप सकते हैं मान लेते हैं कि वह पत्थर 20 किलो का है।

यहाँ पत्थर एक भौतिक वस्तु है जिसे भौतिक मात्रा में व्यक्त करने के लिए किलोग्राम का उपयोग किया गया है, जो कि द्रव्यमान का मात्रक है और वस्तु को भौतिक राशि के रूप में व्यक्त करता है।

इस प्रकार भौतिक राशि की मदद से हमें किसी भौतिक वस्तु को अधिक सटीकता से व्यक्त करने में मदद मिलती है।

अब हम जानते है कि सदिश राशि और अदिश राशि क्या होती हैं?

सदिश राशि किसे कहते हैं?

वह भौतिक राशि जिसे व्यक्त करने के लिए परिणाम और दिशा दोनों आवश्यक होते हैं, उसे सदिश राशि कहते हैं।

सदिश राशि के उदाहरण: बल, वेग, त्वरण, विस्थापन आदि।

अदिश राशि किसे कहते हैं?

वह भौतिक राशि जिसे व्यक्त करने के लिए केवल परिणाम की आवश्यकता होती है तथा वह दिशा पर निर्भर नहीं करती, उसे अदिश राशि कहते हैं।

अदिश राशि के उदाहरण: आयतन, द्रव्यमान, क्षेत्र, दूरी, समय, घनत्व, तापमान आदि।

टिप: इन दोनों राशियों की परिभाषा इनके नाम ही छुपी हुयी है।

सदिश राशि = स + दिश (दिशा) अर्थात दिशा सहित

अदिश राशि = अ + दिश (दिशा) अर्थात दिशा के बिना

अगर जानकारी पसंद आये शेयर जरूर करें। 

Leave a Comment