ट्रांजिस्टर के प्रकार | NPN और PNP


वर्तमान समय में इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का उपयोग बहुत बढ़ गया है, मोबाइल, कम्प्यूटर, टेलीविजन आदि इनमें सबसे अधिक उपयोग में लाये जाते हैं ।

इलेक्ट्रॉनिक गैजेट के निर्माण विभिन्न प्रकार की युक्तियों का उपयोग किया जाता है जैसे – ट्रांजिस्टर, दोलित्र, आईसी आदि ।

यहां मैं आपको Transistors के बारे में जानकारी देने वाला हूं ।

 

ट्रांजिस्टर क्या है

 

ट्रांजिस्टर क्या है?

ट्रांजिस्टर एक अर्द्धचालक युक्ति है इसका का निर्माण P और N प्रकार के पदार्थों को मिलाकर होता है इसमे दो P-N संधि होती है ।

 

ट्रांजिस्टर में तीन इलैक्ट्रोड होते है –
● एमीटर (उत्सर्जक)
● बेस (आधार)
● कलैक्टर (संग्राहक)

 

ट्रांजिस्टर क्या काम करता है?

ट्रांजिस्टर का उपयोग प्रवर्द्धक, वोल्टेज रेगुलेटर, स्विच आदि मे के रूप मे किया जाता है ।

 

ट्रांजिस्टर कितने प्रकार के होते है?

Transistors दो प्रकार के होते है –

 

● PNP Transistor – इसमें दो P प्रकार के पदार्थ के बीच एक N प्रकार का पदार्थ स्थापित किया जाता है ।

 

● NPN Transistor – इसमें दो N प्रकार के पदार्थ के बीच एक P प्रकार का पदार्थ स्थापित किया जाता है ।

 

NPN और PNP Transistor Symbols

 
Symbols of NPN and PNP Transistors
 

Leave a Comment