इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग क्या है? काम और सैलरी

आजकल छात्रों का रुख इंजीनियरिंग कोर्स की तरफ हो गया है बहुत सारे छात्र इंजीनियरिंग डिग्री करके एक सुनहरा भविष्य बनाना चाहते हैं। इंजीनियरिंग कोर्स कई प्रकार के होते हैं जैसे: सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग आदि।

यहां मैं आपको इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग के बारे में पूरी जानकारी देने वाला हूँ कि इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग क्या है? इसमें क्या क्या सिखाया जाता है? इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर का क्या काम होता है? इसकी सैलरी कितनी होती है?

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग क्या है?

यह एक इंजीनियरिंग ब्रांच है इसमें टीवी, रेडियो, कंप्यूटर, मोबाइल जैसे विद्युत् उपकरणों में मौजूद सर्किट और छोटी-छोटी अर्धचालक युक्तियों से जुडी जानकारी दी जाती है।

इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर का क्या काम है?

संचार के आधुनिक संसाधनों जैसे कंप्यूटर, मोबाइल आदि में कोई बड़ी-बड़ी मशीनें नहीं होती बल्कि इनमें तो ट्रांजिस्टर, PN डायोड, आईसी चिप, LED, सेंसर, दोलित्र, एम्प्लीफायर जैसी बहुत सूक्ष्म आकार की अर्धचालक युक्तियाँ होती हैं। इन्हीं सभी युक्तियों और सूक्ष्म परिपथों की जानकारी इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में दी जाती है।

एक इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर का काम इन्हीं सभी युक्तियों का से जुड़ा होता है। जैसे: किसी उपकरण में कोनसी युक्ति कहाँ और कैसे लगानी है, उस युक्ति की क्षमता कितनी होनी चाहिए तथा उस इलेक्ट्रॉनिक उपकरण में किसी प्रकार की खराबी आने पर उसे ठीक कैसे करना है।

इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर कैसे बनें?

इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर बनने के लिए मुख्यतः दो कोर्स होते हैं:

तीन वर्षीय डिप्लोमा: यह पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसे करने के बाद प्रशिक्षणार्थी के पास जूनियर इंजीनियर के लेवल की जानकारी प्राप्त हो जाती है। आप यह कोर्स 10th के बाद कर सकते हैं।

चार वर्षीय स्नातक डिग्री: यह बीटेक कोर्स होता है जिसे करने के बाद प्रशिक्षणार्थी के पास पूर्ण इंजीनियर के लेवल की जानकारी प्राप्त हो जाती है। यह एक अंडर ग्रेजुएशन कोर्स होता है जिसे करने के लिए न्यूनतम 12th पास होना जरूरी है।

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

एक इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर की सैलरी सामन्यतः 25,000 से 50,000 के बीच होती है। अनुभव और ज्ञान के अनुसार यह इससे अधिक भी हो सकती है। ECIL, BEL, Philips, LG तथा मोबाइल और टेलीकॉम कंपनी बड़ी संख्या में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बनाती हैं और ऐसी कम्पनियों में कुशल इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर की आवश्यकता हमेशा रहती है।


अगर आपको इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग बहुत पसंद है तो यह कोर्स आपको जरूर करना चाहिए क्योंकि इसमें करियर भी काफी अच्छा है लेकिन एक बात जरूर कहूंगा कि केवल अच्छा करियर देखते हुए या किसी की सलाह में आकर कोई भी कोर्स ना करें, हमेशा वही विषय चुने जो आपको पसंद हो क्योंकि अच्छा करियर तो हर क्षेत्र में होता है बस उसमे आपका मन लगना जरूरी है।

अन्य पोस्ट:

Leave a Comment